LISTEN ONLINE   |  email: info@radiomadhuban.in  |  Call: +91-2974-228888            

News Room

स्त्री शक्ति - सनावाडा की पहली महिला सरपंच पूजा

पारिवारिक प्रष्ठभूमि - पूजा जी अनुसूचित जनजाति समुदाय से तैल्लुक रखती हैं, उनका परिवार में सभी खेती और मजदूरी से ही जीवन यापन करते है | पूजा के पति व् ससुर खेती व् दिहाड़ी के लिए जाते है वैसे तो पूजा का मायका गुजरात में है और उन्होंने वहीँ आठवी तक पढाई की और फिर शादी के बाद राजस्थान आ गई |

राजनितिक – पूजा के परिवार का राजनीति से कभी कोई सम्बन्ध नही रहा पूजा शादी के बाद राजस्थान असावा गाव में रहने के लिए आ गई २०१५ में सरपंच के चुनावो से पहले उनका गाव नए पंचायत में आ गया और सनवाडा ग्राम पंचायत अलग से बनायीं गयी जहाँ सरपंच सिट अनुसूचित जनजाति की महिलाओं के लिए आरक्षित हुई | गाव के एक अध्यापक को पता लगा की पूजा गुजरात से आठवी पास है तब गाव वालो ने पूजा के परिवार से संपर्क किया पूजा के घरवाले व् स्वयं पूजा नही जानते थे की सरपंच वार्ड पंच ये सब क्या है और उन्होंने साफ मना कर दिया लेकिन अध्यापक के काफी समझाने व् गाँव वालो को ये कहने की उसके पति को भी वार्ड पंच बना देंगे तब पूजा के घरवाले तयार हुए और पूजा सनवाडा ग्राम पंचायत की पहली सरपंच बन गई सरपंच बनने के बाद पूजा wlw में आध्यापक के कहने से ही आई wlw में पूजा को समझ आया की पंचायत क्या होती सरपंच को क्या करना है कितना महत्वपूर्ण पद है यह | उसके बाद भी पूजा कई कार्यशालाओं में आई  wlw के बाद पूजा ने स्वयं जाना सुरु किया पंचायत के कामकाज को और अधिक समझने के लिए उप सरपंच व् संस्थान की समय समय पर मदद ली नई ग्राम पंचायत होने के कारन पूजा के सामने कई समस्याए | ग्राम पंचायत का भवन नही होना तो पूजा ने मर्ज़ हुए स्कूल में पंचायत का कार्यालय बनाया उसमे पोधारोपन किया पानी की व्यस्था की और अटल सेवा केंद्र के निर्माण के लिए सभी जिला लेवल के अधिकारियो के संपर्क में है गाव के लोग कहते है जो पूजा सरपंच का मतलब नही जानती थी वो पूजा आज गाव के लिए कितना कुछ कर रही है | 

सरपंच पूजा के कार्यकाल में हुए कुक कम-

  • 17 cc रोड
  • 28 bpl परिवारों को गेस कनेक्सन
  • पुरे पंचायत क्षेत्र में बेटी के जन्म पर पोधारोपन
  • 13 पसु एल
  • 27 विधवा महिलाओ को पेंसन
  • 17 सामाजिक सुरक्षा पेंसन
  • 6 निशक्त जन पेंसन
  • 12 हेद्पुम्प रिपेयरिं
  • 3 खाद्य सुरक्षा में नाम जुडवाना
  • नाली निर्माण
  • 3 रपट
  • 13 बालिकाओं को विद्यालय से जोड़ना
  • 2 बाल विवाह रुकवाना
  • 4 परिवारों को बिजली कनेक्सन
  • 14 परधानमंत्री आवास में मकान
  • 7 परिवारों को पत्ते दिलवाना

पूजा अब अपना काम खुद करती है और कहती है की में चाहती हूँ की जब गाव की पहली सरपंच का जिक्र हो तो मेरा नाम मेरे काम की वजह से याद् किया जाए | पूजा कहती है अब मुझे इसमें मजा आने लगा है की सरपंच बनने के बाद कितना कुछ सिखा और किया है जो अगर में सरपंच नही होती तो कभी कुछ नही कर पाती | 

#story2 

स्त्री शक्ति - कालेज छात्रा प्रियंका बनी दत्तानी सरपंच

पारिवारिक पृष्ठभूमि-प्रियंका अग्रवाल एक माध्यम वर्गीय परिवार से है इनके पिता गुजरात में काम करते है और वहीँ परिवार सहित रहते है लेकीन प्रियंका बचपन से ही अपने नाना नानी के घर दत्ताणी में रही |  वह अपने परिवार के साथ गुजरात रहने नही गई क्यूंकि वह अभी सेकंड इअर में पढ़ रही है व् अपने मामा मामी के साथ ही रहती है |

राजनितिक पृष्ठभूमि-प्रियंका के मामा पूर्व में राजनीति में रहे हैं, जब पंचायत चुनाव में महिला आरक्षित सिट एवं आठवी पास का नियम आया तो प्रियंका के घर वालो ने प्रियंका को चुनाव में खड़ा करने को सोचा | प्रियंका के सामने 2 और उम्मीदवार खड़े हुए लेकिन जीत प्रियंका को ही मिली शुरुआत उसके मामा ही सब सम्भाल लेंगे लेकिन फिर जब प्रियंका wlw में आई तो उसे अहसास हुआ की यह पद कितना महत्वपूर्ण है ये उसके मामा की वजह से नही आरक्षण की वजह से मिला है तब प्रियंका ने स्वयं काम करना शुरू किया शुरुआत में रोक टोक लगाई तो प्रियंका ने कहा की में मामी को साथ लेकर जाउंगी और हर जगह अपनी मामी के साथ जाती लेकिन धीरे धीरे परिवार के लोगो ने उन्हें अकेले जाने दिया प्रियंका की पंचायत आदिवाशी बाहुल्य क्षेत्र में है इसलिए इन्होने करजिया मुलिया बदमिया आदि आदिवाशी गावो में सड़क के काम किये ताकि आवागमन आसानी से हो सके इसके साथ ही पुरे प्रशासन के साथ मिलकर इन्होने इन गाँव की समस्याओ को दूर करने के लिए विशेष बैठकें  की जिसमे SDM, MLA ने भी लोगो की समस्याओ का सुना व उसके समाधान किये |

प्रियंका द्वारा अब तक किये कार्य -

  • 12 cc रोड
  • 16 बालिकाओ को विद्यालय से जोड़ना
  • 5 विधवा पेंसन
  • 3 पालनहार
  • 9 सामाजिक सुरक्षा पेंसन2 निशक्त जन पेंसना
  • 7 हेद्पुम्प रिपेयर
  • 1 पानी की टंकी का निर्माण
  • नरेगा के अंतर्गत 17 मेडबंदी
  • तलब खुदाई
  • 200 वर्कशा रोपण
  • 45 प्रधानमंत्री आवश योजना में माकन
  • 25 ब्प्ल गेस कनेक्सन
  • 7 रोड लाइट
  • 8 परिवारों को बिजली कनेक्सन
  • 2 बाल विवाह रुकवाए

पूनम सिंह जी शिक्षा अधिकारी - प्रियंका के लिए कहा प्रियंका अच्छी तरह से पंचायत का काम कर रही है और हमें ख़ुशी है इस तरह यंग लडकिय सरकारी काम कर रही है जिस से गाँव मैं विकास बहुत जल्दी होगा .

#story1 

Rajastha Energy Conservation Award 2017 Recognition

Radio Madhuban received recognition as "Rajastha Energy Conservation Award 2017" from the Department of Power, Government of Rajasthan on the occasion of National Energy Conservation Day in Jaipur. The award was given to recognize radio madhuban's effort to create awareness about energy conservation around Mount Abu. The award was received by Radio Madhuban Station Head B.K.Yashwant, B.K. Chandrakala from Vaishali Nagar, Jaipur and Energy Auditor Kedar Khamitakar. The award was given by Sanjay Malhotra, Principal Secretary, Department of Energy, Rajasthan, Mr. R.G Gupta, Managing Director, Jaipur Vidyut Vitaran Nigam Limited and B.K.Doshi, Chairman Rajasthan Renewable Energy Corporation. The award ceremony was held on the occasion of National Energy Conservation Day at Indralok Auditorium Jaipur. The program was organised by Rajasthan Renewable Energy Corporation, which was attended by individuals, industrialists, people of government and private sector institutions.

Read more: Rajastha Energy Conservation Award 2017 Recognition

रेडीयो मधुबन की ७वीं वर्षगांठ “संजीवनी“ का आयोजन किया गया

ब्रह्माकुमरिज के द्वारा संचालित सामुदायिक रेडियो स्टेशन रेडीयो मधुबन ने महासमारोह से अपनी ७वीं वर्षगांठ “संजीवनी“ मनाई | स्थानीय समुदाय के लिए की जाने वाली सेवाओं को साक्षी इस उत्सव में समाज के हर वर्ग के लोगों ने बढ़ चढ़ कर भाग लिया | अंचल और शहर के अनेक गणमान्य नागरिकों, शिक्षकों, विद्यार्थियों, ग्रामीण, घरेलु महिलाएं, सरकारी अधिकारी और जन प्रतिनिधियों ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज करायी |

कार्यक्रम की शोभा में चार चाँद लगाते हुए स्थानीय कलाकारों ने गीत संगीत नृत्य का समां बांध दिया | मुजफ्फर नगर से आमंत्रित प्रसिद्ध गायक कलाकार श्री कुलदीप सिंग ने रफ़ी और किशोर कुमार के गीत प्रस्तुत कर सभी को मन्त्र मुग्ध कर दिया | बिग एफ.एम, भोपाल के कार्यक्रम निदेशक आर.जे. अमित ने अपनी मधुर आवाज से उपस्थित सभी को सम्मोहित कर दिया | पुरे कार्यक्रम में 20 अलग अलग प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किये गए | जिसमे रेडियो मधुबन से जुडे हुए आबू रोड के स्थानीय युवकों द्वारा अंध विश्वास के बारे में जागरूकता पर आधारित एक ड्रामा की भी प्रस्तुति की गयी |

Read more: रेडीयो मधुबन की ७वीं वर्षगांठ “संजीवनी“ का आयोजन किया गया

3rd Anniversary Celebrations RM

Radio Madhuban 90.4 FM celebrated its 3rd anniversary on the 19th January, 2014 with joy and splendor in the Conference Hall, Shantivan Complex of the Brahma Kumaris in Abu Road.

Radio Madhuban started its journey in 2011 with a small recording studio and meek facilities. Since then, the station has grown and a lot of local people from the community have joined as volunteers to help in achieving our aim of social development and community upliftment.

Read more: 3rd Anniversary Celebrations RM